क्या कोई आधुनिक दवाओं के साथ आयुर्वेद चिकित्सा ले सकता है?

कई आयुर्वेदिक दवाएं हैं जिन्हें किसी भी तरह के नुस्खे की आवश्यकता नहीं है। इन दवाओं को एलोपैथी जैसी आधुनिक दवाओं के साथ लिया जा सकता है। इसके अलावा, पुरानी बीमारियों के इलाज के लिए एलोपैथिक दवाओं के साथ आयुर्वेदिक दवाएं निर्धारित की जाती हैं। आयुर्वेदिक दवाएं जड़ी-बूटियों और खनिजों से बनाई जाती हैं। हर्बल सूत्रीकरण से बनी आम आयुर्वेदिक दवा के सेवन से कोई नुकसान नहीं है। हालांकि, शरीर में किसी भी असंतुलन से बचने के लिए आधुनिक दवाओं के साथ-साथ खनिज आधारित फॉर्मूला से बनी आयुर्वेदिक दवाओं को लेते समय डॉक्टर के पर्चे लेने की सलाह दी जाती है।

सिर्फ आयुर्वेद में ही नहीं, दवाओं के अन्य प्रणालियों में भी दवाओं को लेने से पहले संबंधित डॉक्टरों से सलाह लेना काफी स्पष्ट है। हर दवा का अपना गुण होता है लेकिन किसी भी दवा का ओवरडोज मानव शरीर के लिए हानिकारक होता है। ये सभी कारक दवाओं की आयुर्वेदिक प्रणाली को अधिक लाभप्रद और लाभकारी बनाते हैं।

Last updated on जून 4th, 2021 at 05:25 अपराह्न